Search
  • Dr MP Singh

परीक्षाओं को सकारात्मक सोच पर लेना चाहिए : एमपी सिंह



Faridabad News, 07 March 2019 :  एस डी हाई स्कूल में बोर्ड परीक्षा दे रहे विद्यार्थियों और परीक्षा में तैनात अध्यापकों के लिए एक दिवसीय सेमिनार का आयोजन किया गया जिसमें देश के सुप्रसिद्ध शिक्षामित्र समाजशास्त्री और दार्शनिक प्रोफेसर एमपी सिंह ने कहा की परीक्षाओं को सकारात्मक सोच पर लेना चाहिए परीक्षा हर इंसान को हर कदम पर देनी होती है लेकिन विद्यार्थियों के लिए यह लिखित परीक्षा बहुत महत्व रखती है क्योंकि इसके आकलन के बाद विद्यार्थियों का ग्रेड तय किया जाता है और उसी ग्रेड के आधार पर अगली कक्षा में दाखिला भी होता है डॉ एमपी सिंह ने कहा कि परीक्षाओं में नकल नहीं करनी चाहिए परीक्षा में पास होना बहुत आसान होता है जो विद्यालय के अंदर अध्यापकों ने महत्वपूर्ण प्रश्न बताएं होते हैं या यूनिट टेस्ट तिमाही और छमाही परीक्षा में प्रश्न पूछे जाते हैं उनकी पुनरावृति करने पर भी विद्यार्थी पास हो सकता है लेकिन अधिकतम अंक लाने के लिए और दूसरे विद्यार्थियों से आगे निकलने के लिए उनको टेस्ट मॉडल पेपर से भी तैयारी करनी चाहिए और कुछ थोड़े समय के लिए टेलीविजन मोबाइल लैपटॉप आदि से दूर रहना चाहिए तथा नकारात्मक सोच के व्यक्तियों से नहीं मिलना चाहिए डॉ एमपी सिंह ने कहा की इन दिनों में मेडिटेशन की बहुत जरूरत होती है समय पर खाना समय पर पढ़ना बहुत ही जरूरी है नकारात्मक सोच पर परीक्षाओं को नहीं लेना चाहिए और पेपर खराब होने की स्थिति में गलत कदम नहीं उठाना चाहिए यदि किसी कारण से कोई पेपर खराब भी हो जाता है या अच्छे अंक नहीं आते हैं तो कोई घबराने की बात नहीं है उसमें अगली बार सुधार किया जा सकता है डॉ एमपी सिंह ने माता पिता के लिए भी संदेश दिया कि विद्यार्थियों पर अधिक प्रेशर बनाना उचित नहीं है विद्यार्थियों की क्षमता को पहचानना चाहिए और सही दिशा में उनको सपोर्ट करना चाहिए कई बार माता पिता की वजह से विद्यार्थी गलत कदम उठा लेते हैं जिस को सहन करना परिवारी जनों के लिए बहुत ही असंभव हो जाता है इस अवसर पर  विद्यालय की प्रधानाचार्य रेनू मित्तल ने डॉ एम पी सिंह का स्वागत करते हुए धन्यवाद किया तथा इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से उमा दत्त शर्मा उषा मनविंदर कोर रणजीत कौर रवीना सुदेश आशा कमल कुंज आदि की विशेष भूमिका रही

0 views0 comments