Search
  • Dr MP Singh

अच्छा अध्यापक वही जो भेदभाव व जातिवाद से दूर हो : प्रोफेसर एमपी सिंह



Faridabad News, 12 March 2019 : हंसराज कान्वेंट स्कूल में टीचर एजुकेशन पर एक सेमिनार का आयोजन किया गया जिसमें देश के सुप्रसिद्ध शिक्षाविद समाजशास्त्री दार्शनिक प्रोफेसर एमपी सिंह ने बताया कि ऐसे टीचर बेहद अच्छे होते हैं जो अपने विद्यार्थियों को पब्लिक स्पीकिंग सिखा देते हैं और  क्रिएटिव बना देते हैं डॉ एमपी सिंह ने अपने जीवन के अनुभव को बांटते हुए कहा की अच्छा अध्यापक वही है जिनको अपने सभी विद्यार्थियों के नाम याद हो और उनकी पारिवारिक स्थिति का भी ज्ञान हो तथा भेदभाव व जातिवाद से दूर हो अधिकतर अध्यापक वही लोकप्रिय होते हैं जो पहली बेंच से अंतिम बेंच तक बैठने वाले विद्यार्थियों की मानसिकता को पहचान कर उनके मुरझे हुए चेहरों को खुशहाल बना देते हैं और उनके अंदर के भय को निकालकर भयमुक्त बना देते हैं जो विद्यार्थी जवाब देने में संकोच करते हैं शर्माते हैं या अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन नहीं कर पाते हैं उनके साथ मित्रवत व्यवहार करके उनकी हिचकिचाहट को दूर कर देते हैं और जवाब देने के लिए प्रोत्साहित कर देते हैं डॉ एमपी सिंह ने कहा की कई विद्यार्थी मरने और मारने के लिए तैयार हो जाते हैं उनके उग्र रूप को शांत करना व्यवहार कुशल मृदुभाषी बनाना तथा उनमें आपसी तालमेल  बैठाना एक अध्यापक का श्रेष्ठ कार्य होता है ऐसे अध्यापक हमेशा सम्मानित जिंदगी जीते हैं जो देश की भौगोलिक स्थिति तथा उस समय के ज्वलंत विषयों पर अपनी कक्षाओं में बात करते हैं इस अवसर पर विद्यालय के चेयरमैन इंद्र राज ने डॉ एमपी सिंह को गुलदस्ता देकर स्वागत किया तथा चेयरमैन इंद्रजीत ने धन्यवाद किया सभी अध्यापकों ने तन्मयता से सुना और उक्त गुणों को अपनाने का संकल्प भी लिया

0 views0 comments